Skip to main content

Posts

Posted by www.computerhindinotes.ooo

MS Excel Formula in hindi | Computer Hindi Notes

MS Excel Formula Function (जोड़ना ): इस ऑप्शन के  निम्न प्रकार के मैथमैटिक्स कैलकुलेशन को  सकते है इसमें निम्न लिखित  फार्मूला   की लिस्ट होती हैं। Sum Function (सम फंक्शन): इस फार्मूला का प्रयोग एम एस एक्सेल में लिखी गई संख्याओं को जोड़ने के लिए किया जाता है। अर्थात एक निश्चित रेंज में लिखी गई सँख्या का सम प्राप्त करने के लिए किया जाता है। Syntax:                 =sum(Range)  ↲  (Enter)                              =sum(A1:B3)  ↲  (Enter)                              =153 Subtraction (घटाना): निम्न फार्मूला का प्रयोग करके  निश्चित सेल में लिखी गई संख्या में से किसी भी संख्या को घटाया जा सकता है। Syntax:                 =(A1-B3)  ↲ (Enter)                                        =-3 Multiplication (गुणा): इस फार्मूला  का प्रयोग किसी भी दो सेलो की संख्याओं का गुणनफल ज्ञात करने के लिए किया जाता है।  Syntax:               =(B3*C7)  ↲  (Enter)                            =864                      *=Star Division (भाग): इस फार्मूला  क
Recent posts

what is malware(मैलवेयर क्या होता है)

मैलवेयर की परिभाषा : मैलवेयर एक प्रकार का सॉफ्टवेयर होता है। यह जाने अनजाने में ही आप कंप्यूटर में आ सकता है। यह आपकी निजी या किसी सवेदनशील जानकरी इकट्ठा कर सकता है। मैलवेयर आपके किसी भी डाटा को किसी अन्य डिवाइस में भेज सकता है। मैलवेयर का प्रयोग हैकर्स अक्सर किसी के निजी डाटा में सेंध लगाने के लिए करते है। जिससे वे आपका महत्वपूर्ण डाटा आसानी से चुरा सके।  मैलवेयर के प्रकार :  वैसे तो मैलवेयर कई प्रकार के पाए जाते है जिसमे से कुछ प्रमुख मैलवेयर निम्न है।  1. Computer Worms(कंप्यूटर वर्म्स) 2.Trojans Horse(ट्रोजन हॉर्स) 3. Virus(वायरस) 4. Spyware(स्पाईवेयर) 5. Adware(एडवेयर) 1. Computer Worms(कंप्यूटर वर्म्स): यह एक प्रकार का दुर्भावनापूर्ण प्रोग्राम होता है। यह आपके कंप्यूटर में किसी नेटवर्क के माध्यम से सकता है। जैसे की USB Drive , Hard drive , Media Storage और Email इत्यादि से आ सकता है। मैलवेयर  आपके कंप्यूटर में बहुत ही तेजी से फैलता है। यह मैलवेयर आपके कंप्यूटर की मौजूदा फाइल को डिलीट कर देता है। और यह आपके RAM (Random Access Memory) की स्पीड को कम कर देता है।  जिससे आपका कंप्यू

Kali Linux के लिए Bootable Pendrive कैसे बनाये

 Kali Linux के लिए Bootable Pendrive कैसे बनाये Making bootable Drive on Kali Linux: इस मेथड ( Method) के द्वारा हम काली लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर को पेनड्राइव में इंस्टॉल करते है। और जरूरत पड़ने पर अपने  में ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर में ब छेड़-छाड़ किये बिना पेनड्राइव में इंस्टाल किये गए पेनड्राइव में इंस्टॉल किये गए काली लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर का प्रयोग कर सकते है। Making: Search>Google.com>Download kali linux(www.kali.org)>अब अपने कंप्यूटर के वर्शन के अनुसार सॉफ्टवेयर के वर्शन को चुनिए >अब ISO या HTTP,Torent पर क्लिक करके काली लिनक्स सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर लीजिये। नोट: आप काली लिनक्स के अलावा किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर को डाउनलोड कर सकते है। किसी अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने  लिए उसके ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर जानकारी ले।  Power (ISO): यह एक प्रकार का एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है।जिसकी सहायता से हम काली लिनक्स को पेनड्राइव के इंस्टाल करेंगे।  Power ISO को डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए निर्देशो को फॉलो करे।  Search. Google.com>Power I

Resume Kaise Banaye

How To Create Resume रिज्यूम क्या है: दोस्तो किसी भी जॉब(नौकरी) के लिए जब हम अप्लाई करते है। तो हमे रिज्यूम देना आवस्यक होता है। रिज्यूम कंप्यूटर द्वारा बनाई गई एक कॉपी होती है।जिसे हम एम एस वर्ड या किसी अन्य सॉफ्टवेयर से बना सकते है। रिज्यूम बनाने के लिए आपके पास आप के सभी दस्तावेज की जानकारी होना आवश्यक है।और उसके साथ ही एक पासपोर्ट साइज फ़ोटो का होना भी जरूरी है। जिससे कि आप रिज्यूम के रूप में बनाये जा रहे फॉर्म को सही तरीके से भर सके। रिज्यूम कैसे बनाये: 1:- दोस्तो रिज्यूम बनाने के लिए सबसे पहले आपको  एम एस वर्ड सॉफ्टवेयर को ओपन करना होगा।  2:-इसके बाद नई ब्लेंक डॉक्यूमेंट पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एम एस वर्ड का डिफ़ॉल्ट इंटरफेस दिखने लगेगा। 3:-अब आपको मेनू बार मे दिए गए इन्सर्ट मेनू के अंतर्गत आने वाले टेबल ऑप्शन पर क्लिक करके 3 बाइ 5 का कॉलम इन्सर्ट करना होगा। 4:-अब आपको लाये गए टेबल के दाहिने साइड के सभी कॉलम को सेलेक्ट करके मर्ज(मिलाना) करना होगा। 5:-अब आपको लाये गए कॉलम में अपना नाम, फ़ोटो,आदि लगाना है। इतना सब कुछ हो जाने के बाद अब आपको शिक्षा से संबंधित जानकारी

Create Presentation in MS PowerPoint | | Computer Hindi Notes

प्रेजेंटेशन कैसे तैयार करे: (how to create presentation in hindi) 1.दोस्तो प्रेजेंटेशन बनाने के लिए सबसे पहले आपको एम एस पॉवरपॉइंट सॉफ्टवेयर को ओपन करे। 2.अपनी इच्छा अनुसार थीम का चयन करें  3.न्यू ब्लेंक प्रेजेंटेशन पर क्लिक करे। 4.अब आपके सामने स्लाइड दिखाने लगेगी। दोस्तो प्रेजेंटेशन तैयार करने के लिए आपके पास विषय होना चाहिए । जीस के बारे में आप प्रेजेंटेशन में बता सके । जैसे..  कोई कंपनी , संस्थान, या कोई दुकान,इत्यादि। अब आपको सबसे पहले स्लाइड के ऊपर वाले कॉलम में मुख्य टाइटल को लिखना है । इसके नीचे वाले कॉलम में उस कंपनी या संस्था के बारे में कुछ महत्त्वपूर्ण जानकारी लिखना है। इसके बाद अगर आप की जानकारी को सांझा करने के लिए और पृष्ठ की आवश्यकता है तो Ctrl+M कुंजी को दबाकर नई स्लाइड को इन्सर्ट कर सकते है। जिसमे आप उस संस्था या कंपनी के प्रोडक्ट या विशेषताओ को दरसा सकते है।  इसके अलावा आप अपने प्रेजेंटेशन में इमेज का प्रयोग भी कर सकते है । अब आप अपने द्वारा लिखे गए कंटेंट तथा उसके बैकग्राउंड को अपनी आवस्यकता अनुसार किसी भी कलर में रंग भर सकते है। इतना सब कुछ हो जाने के बाद अब

What is tor Browser-टोर ब्राउज़र क्या है

 Tor ब्राउज़र क्या है: आपको बता दे की टोर एक विशेष प्रकार का ब्राउज़र है। जो इंटरनेट में हमारी पहचान छुपाने के लिए प्रयोग किया जाता है। टोर ब्राउज़र का मुख्य कार्य डिवाइस की पहचान को छुपाना है। इस ब्राउज़र को मुख्य रूप से (विंडोज,आईओएस तथा एंड्राइड)ऑपरेटिंग सिस्टम में प्रयोग में लाया जाता है। टोर ब्राउज़र के मुख्य उद्देश्य उपयोगकर्ता की गोपनीयता की सुरक्षा है।  इंटरनेट पर ऐसी बहुत सी चीजे है। जिन्हे सर्च इंजन खोज नहीं पाते, जिसे गूगल जैसा आधुनिक सर्च इंजन भी नहीं खोज सकता। उसे टोर ब्राउज़र की मदद से इंटरनेट पर खोजै जा सकता है। जैसे डार्क वेब (डीप वेब) ,इंटरनेट अधिकतर हिस्सा डार्क वेब में निहित है। एक रीसर्च के अनुसार एक नार्मल व्यक्ति इंटरनेट का मात्र 4% हिस्सा ही प्रयोग कर सकता है बाकि का 96% डार्क वेब है जिसे एक नार्मर इंटरनेट उपभोक्ता उपयोग नहीं कर सकता है। टोर ब्राउज़र कैसे करता है: टोर ब्राउज़र को ओपन करने पर यह अपने सर्वर से कनेक्ट होता है और वही से यह ब्राउज़र आपके डिवाइस की  IP एड्रेस को हाईड(छुपाना) करके खुद की IP एड्रेस की एक सर्किट बनाता है।  इस ब्राउज़र द्वारा बनाई गई सर्किट Onio