windows (हिंदी नोट्स) - Computer Hindi Notes




Windows


Introduction of windows:विंडोज  का परिचय:

विंडोज एक ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर है। प्रत्येक कंप्यूटर को चलाने के  ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता होती है। ऑपरेटिंग सिस्टम का मुख्य कार्य कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बिच सम्बन्ध स्थापित करना है। ऑपरेटिंग; सिस्टम कंप्यूटर से जुड़े हुए समस्त इनपुट तथा आउटपुट की जाँच करते हुए उन्हें नियंत्रित करने का कार्य करता है। यह माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन द्वारा विकसित किये जाने वाला अतयंत महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर है।
यह मल्टी यूजर ऑपरेटिंग;ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोग्राम है। अर्थात इस सॉफ्टवेयर पर एक साथ एक से अधिक लोग कार्य कर सकते है। विंडोज GUI (Graphical User Interface) पर आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर है।


विंडोज़ का संस्करण:Version of Windows:

वर्तमान समय में विंडोज के विभिन्न वर्जन मार्केट में उपलब्ध है। विंडोज के इन सभी वर्जनों को दो भागो में बाटा गया है


  1. Windows 3.0 To 3.11               (विंडोज 3.0  टू   3.11)     
  2. Windows 95 To Ultimate        (विंडोज   95  टू  अल्टीमेट)

1.  विंडोज 3.0  टू   3.11 :    Windows 3.0 To 3.11:

विंडोज के ये वर्जन कोई ऑपरेटिंग सिस्टम न होकर साधारण सॉफ्टवेयर है। इनका प्रयोग 1995 के पहले किया जाता था। इन्हे कंप्यूटर में चलाने के लिए किसी अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता होती थी क्योकि विंडोज के इन वर्जन में डिस्क को ऑपरेट करने कि सुविधा नहीं होती थी।  


2. विंडोज़  95 टू  अल्टीमेट:   Windows 95 To Ultimate:

विंडोज के वर्जन वास्तव में ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोग्राम है। विण्डोज के इन वर्जनो को चलाने के किसी अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम की आवश्यकता नहीं होती है। क्योकि इसमें डिस्क को ऑपरेट करने की सुविधा दी गई है। इसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को बहुत आसानी से चला सकते है। 
वर्तमान समय में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के विभिन्न वर्जन मार्केट में उपलब्ध है जो निम्न है। 
  1. Windows                 95
  2. Windows                 98
  3. Windows                 XP
  4. Windows                 2000XP
  5. Windows                 2002XP
  6. Windows                 2003XP
  7. Windows                 2004XP
  8. Windows                 XP Professional
  9. Windows                 XP Vista
  10. Windows                 XP Glass
  11. Windows                 XP Ultimate
  12. Windows                 7
  13. Windows                 8  
  14. Windows                 10

एम एस डॉस (MS DOS) तथा विंडोज में अंतर:

एम एस डॉस तथा विंडोज दोनों माइक्रोसॉफ्ट कारपोरेशन द्वारा विकसित किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर है परन्तु दोनों ही प्रोग्राम में बहुत ही अंतर है .. 

1 . एम एस डॉस एक सिंगल यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम है। जबकि विंडोज एक मल्टी यूजर ऑपरेटिंग सिस्टम प्रोग्राम है। 

2 . एम एस डॉस   CUI (Character User Interface) पर आधारित है जबकि विंडोज GUI (Graphical User Interface) पर आधारित है। 

3.  एम एस डॉस में सभी कार्यो को कीबोर्ड के माध्यम से किया जाता है जबकि विंडोज में अधिकतर कार्य माउस से किया जाता है। 

4.  एम एस डॉस की स्क्रीन ब्लैक एंड वाइट होती है जबकि विंडोज की स्क्रीन डिजिटल होती है। 

5.  एम एस डॉस में हम किसी भी प्रकार की डिज़ाइन नहीं बना सकते है जबकि विंडोज में किसी भी प्रकार के डिज़ाइन को बहुत आसानी से बनाया जा सकता है। 


विंडोज के प्रकार:Types of Windows:

ऑपरेटिंग सिस्टम में विभिन्न प्रकार के विंडोज होते है। जिन्हे मुख्य रूप से दो वर्गों में बाट सकते है। 
  • डॉक्यूमेंट विंडो         (Document Window)
  • एप्लीकेशन विंडो      (Application Window)

डॉक्यूमेंट विंडो:
Document Window:

यह विंडो कवर की तरह कार्य करता है। जिसमे एप्लीकेशन की लिस्ट प्रदर्शित होती है जब हम डॉक्यूमेंट पर क्लिक करते है तो इसका एक सब मेनु डिस्प्ले होता है जिसमे एप्लीकेशन की लिस्ट स्थित होती। 

जैसे ..  प्रोग्राम की लिस्ट में दिया गया ऐसोसेरीज  जो  एक डॉक्यूमेंट विंडो है। 


एप्लीकेशन विंडो:
Application Window:

यह डॉक्यूमेंट विंडो के अंतर्गत स्थित होता है। जब हम एप्लीकेशन विंडो पर क्लिक करते है तो इसमें दिया गया टाइटल बार , मेनू बार , वर्किंग एरिया , स्टेटस बार , टास्क बार आदि स्थित होते है। 

जैसे ..  एसोसेरीज के अंतर्गत दिया गया नोटपैड एक एप्लीकेशन विंडो है। 



Download PDF Click Here



Post a Comment

1 Comments