Skip to main content

Posts

Showing posts from September, 2020

Resume Kaise Banaye

How To Create Resume रिज्यूम क्या है: दोस्तो किसी भी जॉब(नौकरी) के लिए जब हम अप्लाई करते है। तो हमे रिज्यूम देना आवस्यक होता है। रिज्यूम कंप्यूटर द्वारा बनाई गई एक कॉपी होती है।जिसे हम एम एस वर्ड या किसी अन्य सॉफ्टवेयर से बना सकते है। रिज्यूम बनाने के लिए आपके पास आप के सभी दस्तावेज की जानकारी होना आवश्यक है।और उसके साथ ही एक पासपोर्ट साइज फ़ोटो का होना भी जरूरी है। जिससे कि आप रिज्यूम के रूप में बनाये जा रहे फॉर्म को सही तरीके से भर सके। रिज्यूम कैसे बनाये: 1:- दोस्तो रिज्यूम बनाने के लिए सबसे पहले आपको  एम एस वर्ड सॉफ्टवेयर को ओपन करना होगा।  2:-इसके बाद नई ब्लेंक डॉक्यूमेंट पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एम एस वर्ड का डिफ़ॉल्ट इंटरफेस दिखने लगेगा। 3:-अब आपको मेनू बार मे दिए गए इन्सर्ट मेनू के अंतर्गत आने वाले टेबल ऑप्शन पर क्लिक करके 3 बाइ 5 का कॉलम इन्सर्ट करना होगा। 4:-अब आपको लाये गए टेबल के दाहिने साइड के सभी कॉलम को सेलेक्ट करके मर्ज(मिलाना) करना होगा। 5:-अब आपको लाये गए कॉलम में अपना नाम, फ़ोटो,आदि लगाना है। इतना सब कुछ हो जाने के बाद अब आपको शिक्षा से संबंधित जानकारी

Create Presentation in MS PowerPoint | | Computer Hindi Notes

प्रेजेंटेशन कैसे तैयार करे: (how to create presentation in hindi) 1.दोस्तो प्रेजेंटेशन बनाने के लिए सबसे पहले आपको एम एस पॉवरपॉइंट सॉफ्टवेयर को ओपन करे। 2.अपनी इच्छा अनुसार थीम का चयन करें  3.न्यू ब्लेंक प्रेजेंटेशन पर क्लिक करे। 4.अब आपके सामने स्लाइड दिखाने लगेगी। दोस्तो प्रेजेंटेशन तैयार करने के लिए आपके पास विषय होना चाहिए । जीस के बारे में आप प्रेजेंटेशन में बता सके । जैसे..  कोई कंपनी , संस्थान, या कोई दुकान,इत्यादि। अब आपको सबसे पहले स्लाइड के ऊपर वाले कॉलम में मुख्य टाइटल को लिखना है । इसके नीचे वाले कॉलम में उस कंपनी या संस्था के बारे में कुछ महत्त्वपूर्ण जानकारी लिखना है। इसके बाद अगर आप की जानकारी को सांझा करने के लिए और पृष्ठ की आवश्यकता है तो Ctrl+M कुंजी को दबाकर नई स्लाइड को इन्सर्ट कर सकते है। जिसमे आप उस संस्था या कंपनी के प्रोडक्ट या विशेषताओ को दरसा सकते है।  इसके अलावा आप अपने प्रेजेंटेशन में इमेज का प्रयोग भी कर सकते है । अब आप अपने द्वारा लिखे गए कंटेंट तथा उसके बैकग्राउंड को अपनी आवस्यकता अनुसार किसी भी कलर में रंग भर सकते है। इतना सब कुछ हो जाने के बाद अब

What is tor Browser-टोर ब्राउज़र क्या है

 Tor ब्राउज़र क्या है: आपको बता दे की टोर एक विशेष प्रकार का ब्राउज़र है। जो इंटरनेट में हमारी पहचान छुपाने के लिए प्रयोग किया जाता है। टोर ब्राउज़र का मुख्य कार्य डिवाइस की पहचान को छुपाना है। इस ब्राउज़र को मुख्य रूप से (विंडोज,आईओएस तथा एंड्राइड)ऑपरेटिंग सिस्टम में प्रयोग में लाया जाता है। टोर ब्राउज़र के मुख्य उद्देश्य उपयोगकर्ता की गोपनीयता की सुरक्षा है।  इंटरनेट पर ऐसी बहुत सी चीजे है। जिन्हे सर्च इंजन खोज नहीं पाते, जिसे गूगल जैसा आधुनिक सर्च इंजन भी नहीं खोज सकता। उसे टोर ब्राउज़र की मदद से इंटरनेट पर खोजै जा सकता है। जैसे डार्क वेब (डीप वेब) ,इंटरनेट अधिकतर हिस्सा डार्क वेब में निहित है। एक रीसर्च के अनुसार एक नार्मल व्यक्ति इंटरनेट का मात्र 4% हिस्सा ही प्रयोग कर सकता है बाकि का 96% डार्क वेब है जिसे एक नार्मर इंटरनेट उपभोक्ता उपयोग नहीं कर सकता है। टोर ब्राउज़र कैसे करता है: टोर ब्राउज़र को ओपन करने पर यह अपने सर्वर से कनेक्ट होता है और वही से यह ब्राउज़र आपके डिवाइस की  IP एड्रेस को हाईड(छुपाना) करके खुद की IP एड्रेस की एक सर्किट बनाता है।  इस ब्राउज़र द्वारा बनाई गई सर्किट Onio

कंप्यूटर की भाषाये

  कंप्यूटर भाषाएँ कंप्यूटर की भाषा  एक प्रकार का कोड है जिसे प्रोग्रामर द्वारा विकशित किया जाता है।  कंप्यूटर की भाषा  सॉफ्टवेयर और प्रोग्राम के बीच समंध स्थापित करने के लिए जिम्मेदार है। कंप्यूटर की भाषा  की मदद से एक कंप्यूटर उपयोगकर्त्ता कंप्यूटर से डेटा प्रोसेस करने के लिए आवश्यक कमांड की पहचान अच्छे तरीके से कर सकता है। कंप्यूटर की इन भाषाओं को तीन भागो में बता गया है। 1.मशीनी भाषा 2.असेम्बली भाषा 3.उच्च स्तरीय भाषा यह भी पढ़े...   हार्ड डिस्क क्या है ? मशीनी भाषा: यह भाषा कंप्यूटर की मूल भाषा  है। इस भाषा को CPU (Central Processing Unit) के द्वारा समझा जाता है।कंप्यूटर की इस भाषा को किसी व्यक्ति के लिए समझना आसान नही है क्योंकि इस भाषा मे कोई भी कमांड देने के लिए बाइनरी अंको(केवल एक 1 और शून्य 0) का प्रयोग कंप्यूटर द्वारा किया जाता है। असेम्बली भाषा : यह एक विशेष प्रकार की भाषा के कोड का एक सेट है।इस भाषा को  मशीनी भाषा  के द्वारा तैयार किये जाने वाले प्रोग्राम में आने वाली कठिनाइयों को दूर करने के उद्देश्य से बनाया गया। इस भाषा का नाम असेम्ब्ली भाषा है।  इसे सीधे कंप्यूटर के प्रो

हार्ड डिस्क क्या है और उसके प्रकार

 हार्ड डिस्क क्या है Hard Disk (हार्ड डिस्क ): हार्ड डिस्क  एक प्रकार का स्टोरेज डिवाइस होता है। इसका प्रयोग बहुत अधिक मात्रा में आकड़ो को संग्रहित करने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग मुख्यतः लैपटाप या कंप्यूटर में किया जाता है।  हार्ड डिस्क डाटा को स्टोर करने के लिए एक या एक से अधिक बार घूर्णन करती है।  हार्ड डिस्क की संग्रहण क्षमता  GB (गीगाबाइट ) या TB (टेराबाइट )  मापा जाता है।  सॉलिड डिस्क ड्राइव (SSD): यह एक स्टोरेज डिवाइस है। जो किसी भी डाटा को हार्ड डिस्क की अपेक्षा कम समय में रीड( पढ़ना ) कर सकती है। अर्थात इसमें डाटा इसमें डाटा तीव्र गति से स्टोर किया जा सकता है।  यह एक प्रकार की मेमोरी है जिसमे SSDs फ्लैश-आधारित मेमोरी का उपयोग करके   हार्ड डिस्क की जगह इसका उपयोग कर सकते है। सॉलिड-स्टेट ड्राइव (SSD) कंप्यूटर में उपयोग होने वाली एक नई पीढ़ी का स्टोरेज डिवाइस है।    CD Rom (Compact Disk Read Only Memory): इस डिवाइस के माध्यम से हम कंप्यूटर के किसी सॉफ्टवेयर एवं  प्रोग्रम को इंस्टाल करने का कार्य करते है। इसके साथ ही हम किसी फिल्म अथवा गाने को सी डी में उपलोड कर सकते है।  Im